PM Surakshit Matritva Ashram Yojana 2022 Online Registration

देश में बढ़ती गर्भवती माताओं और बहनों और नवजात शिशुओं की मृत्यु दर को कम करने के लिए, भारत सरकार ने एक बहुत ही कल्याणकारी और लाभकारी योजना यानी पीएम सुरक्षित मातृत्व आश्रम योजना 2022 को युद्ध स्तर पर शुरू किया है, जिसके तहत हमारी सभी गर्भवती माताओं शुरू किए गए हैं। और बहनों को प्रसव से पहले कुल 4 बार नि:शुल्क चिकित्सा सेवा प्रदान की जाएगी, साथ ही प्रसव के बाद 6 महीने तक गर्भवती माताओं और नवजात शिशुओं के स्वास्थ्य का विकास किया जाएगा, दवाओं का पूरा खर्च वहन करना, यह है मूल इस योजना का लक्ष्य, जिसे प्राप्त करने के लिए हम आपको इस लेख में सुमन योजना 2022 के बारे में पूरी जानकारी प्रदान करेंगे ताकि हमारी सभी गर्भवती महिलाओं और नवजात शिशुओं का स्वास्थ्य विकास हो सके।

प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व आश्रम योजना 2022

ताकि उनके जीवन के इस संवेदनशील समय को सुरक्षित करके, हमारे सभी नवजात शिशुओं को एक सुरक्षित और स्वास्थ्यकर स्वास्थ्य प्रदान करके, गर्भावस्था के दौरान हमारी माताओं और बहनों की मृत्यु दर के साथ-साथ नवजात शिशुओं की मृत्यु दर को कम किया जा सके और एक का निर्माण किया जा सके। स्वस्थ भारत।

इस लेख में हम आपको इस मातृत्व और बाल कल्याण योजना के बारे में पूरी जानकारी देंगे यानि “पीएम सुरक्षित मातृत्व आश्रम योजना 2022”, इस योजना के तहत प्रदान की जाने वाली चिकित्सा सुविधाओं, इस योजना के मूल लक्ष्यों और लाभों के बारे में बताएंगे। हम इसके बारे में बताएंगे और साथ ही साथ अपनी सभी गर्भवती माताओं और बहनों को बताएंगे कि कैसे वे इस योजना को लागू करके इस योजना का पूरा लाभ उठा सकेंगी और अपने स्वास्थ्य की रक्षा करते हुए एक स्वस्थ जीवन प्राप्त करेंगी और उनका बच्चा।

योजना पर हमारी सभी गर्भवती माताओं और बहनों की निगाहें

हम सभी जानते हैं कि पिछले कई वर्षों में हमारी माताओं और बहनों की मृत्यु दर लगातार बढ़ रही है और हमारे नवजात शिशुओं को भी उचित चिकित्सा सुविधाओं के अभाव में मार दिया जा रहा है, लेकिन अब भारत सरकार इस दर्दनाक स्थिति में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री, भारत सरकार, मृत्यु दर को कम करने के लिए “पीएम सुरक्षित मातृत्व आश्वासन सुमन योजना” शुरू कर रही है। श्रीमान। डॉ. हर्षवर्धन ने प्रधानमंत्री मोदी के साथ 10 अक्टूबर, 2019 को इस योजना की आधिकारिक घोषणा की है, जिसके तहत सभी भारतीय गर्भवती माताओं, बहनों और नवजात शिशुओं के स्वास्थ्य को पूरी तरह से संरक्षित और संरक्षित किया जाएगा और सभी आवश्यक चिकित्सा सुविधाएं प्रदान की जाएंगी। . ऐसा इसलिए किया जाएगा ताकि उन्हें और उनके नवजात शिशुओं के स्वास्थ्य को सुरक्षित रखते हुए उन्हें एक उज्ज्वल और सुनहरा जीवन और भविष्य प्रदान किया जा सके।

हमारी गर्भवती माताओं और बहनों ने कहा सरकार को धन्यवाद

भारत सरकार के केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री की तरह। श्रीमान। डॉ. हर्षवर्धन ने प्रधानमंत्री मोदी के साथ 10 अक्टूबर, 2019 को इस योजना की आधिकारिक घोषणा की। तब से, हमारी सभी गर्भवती माताओं और बहनों में खुशी और संतुष्टि की लहर दौड़ गई है और उन्होंने इस कल्याणकारी पहल के लिए सरकार को धन्यवाद दिया। क्योंकि इससे उनकी आर्थिक तंगी दूर होगी और उनके और उनके नवजात शिशुओं के स्वास्थ्य की पूरी तरह से रक्षा और रक्षा करके उन्हें एक उज्ज्वल जीवन और एक सुनहरा भविष्य प्रदान किया जाएगा।

योजना का मूल लक्ष्य

हम अपनी सभी गर्भवती माताओं और बहनों को इस योजना के मूल लक्ष्यों यानि “पीएम सुरक्षित मातृत्व आश्रम योजना 2022” के बारे में बताना चाहते हैं, जो इस प्रकार हैं –

  1. योजना के तहत हमारी सभी गर्भवती माताओं, बहनों और नवजात शिशुओं के स्वास्थ्य की रक्षा और सुरक्षा के लिए,
  2. योजना के तहत हमारी सभी गर्भवती माताओं, बहनों और नवजात शिशुओं की लगातार बढ़ती मृत्यु दर को कम करने का प्रयास किया जाएगा।
  3. योजनान्तर्गत हमारी सभी गर्भवती माताओं-बहनों एवं नवजात शिशुओं को आर्थिक संकट से मुक्त कराना, उन्हें सभी आवश्यक चिकित्सा सुविधाएं निःशुल्क उपलब्ध कराना,
  4. योजना के तहत आर्थिक तंगी के कारण सही दवा न मिलने की स्थिति में गर्भावस्था के दौरान हमारी माताओं और बहनों की मृत्यु को रोकने के लिए,
  5. योजनान्तर्गत हमारी सभी गर्भवती माताओं एवं बहनों का प्रसव प्रशिक्षित एवं प्रशिक्षित नर्स एवं डॉ.

इस योजना के तहत उपरोक्त सभी मूलभूत लक्ष्यों को प्राप्त किया जाएगा जिससे हमारी सभी गर्भवती माताओं, बहनों और नवजात शिशुओं को स्वास्थ्य की सुरक्षा मिल सके।

पढ़ना, प्रधानमंत्री आवास योजना ऑनलाइन आवेदन 2022

योजना के तहत सरकार ने योजना का लाभ जारी किया

हम अपनी सभी गर्भवती माताओं और बहनों को सूचित करना चाहते हैं कि, इस योजना के लाभों का ब्लू-प्रिंट यानी “पीएम सुरक्षित मातृत्व आश्वासन सुमन योजना” उनके और उनके नवजात शिशुओं के स्वास्थ्य की रक्षा और सुरक्षा के लिए जारी किया गया है, सरकार ने जारी किया है , जो निम्नलिखित है-

  • इस योजना का लाभ यानि “पीएम सुरक्षित मातृत्व बीमा सुमन योजना” भारत की सभी गर्भवती माताओं और बहनों को दिया जाएगा और उनके और उनके नवजात शिशुओं के स्वास्थ्य की रक्षा और सुरक्षा की जाएगी।
  • इस योजना के तहत, हमारी सभी गर्भवती माताओं और बहनों के लिए कम से कम चार “प्रसव संबंधी जांच” की जाएंगी, जिसका पूरा खर्च सरकार वहन करेगी।
  • इस योजना के तहत, हमारी सभी गर्भवती माताओं और बहनों का पहली तिमाही में एकमुश्त चेकअप होगा।
  • इसके बाद 6 माह की हमारी सभी गर्भवती माताओं और बहनों को सभी चिकित्सा सुविधाएं प्रदान की जाएंगी।
  • योजना के तहत हमारी सभी गर्भवती माताओं और बहनों को अनिवार्य रूप से “आयरन फोलिक एसिड सप्लीमेंट” किया जाएगा, जिसका पूरा खर्च हमारी भारत सरकार द्वारा वहन किया जाएगा।
  • हमारी सभी गर्भवती माताओं और बहनों को सभी प्रकार की बीमारियों से बचाने के लिए योजना के तहत।

टेटनस और डिप्थीरिया के टीके दिए जाएंगे,

  • गर्भावस्था के दौरान आपात स्थिति में, हमारी सभी गर्भवती माताओं और बहनों को योजना के तहत मुफ्त परिवहन सुविधा दी जाएगी, जिससे घर से अस्पताल तक यात्रा करने की परेशानी समाप्त हो जाएगी ताकि वे आसानी से और आसानी से घर से अस्पताल जा सकें। ,
  • योजना के तहत हमारी सभी गर्भवती माताओं और बहनों को गर्भावस्था के दौरान गर्भावस्था से संबंधित जटिलताओं के कारण “सी-सेक्शन” की मुफ्त सुविधा प्रदान की जाएगी।
  • और अन्तिम लाभ के तहत हमारी माताओं-बहनों और नवजात शिशुओं के स्वास्थ्य की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए, हमारी सभी गर्भवती माताओं-बहनों और नवजात शिशुओं आदि को स्वास्थ्य और चिकित्सा सुविधाएं प्रदान की जाएंगी।

योजना के तहत हमारी सभी गर्भवती माताओं-बहनों और नवजात शिशुओं को उपरोक्त सभी चिकित्सा सुविधाएं प्रदान की जाएंगी ताकि हमारी सभी गर्भवती माताओं-बहनों और नवजात शिशुओं की बढ़ती मृत्यु दर को कम किया जा सके।

योजना के तहत शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में ऐसी चिकित्सा सुविधाएं प्रदान की जाएंगी।

हम अपनी सभी गर्भवती माताओं और बहनों को बताना चाहते हैं कि, उनके और उनके नवजात शिशु के स्वास्थ्य की सुरक्षा और सुरक्षा के लिए इस योजना के तहत कई प्रकार की चिकित्सा सुविधाएं प्रदान की गई हैं, अर्थात “पीएम सुरक्षित मातृत्व आश्वासन सुमन योजना”। जिन्हें शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में वर्गीकृत किया गया है और इस वर्गीकरण के तहत प्रदान की जाने वाली सभी चिकित्सा सुविधाओं की सूची इस प्रकार है –

  1. योजना के तहत ग्रामीण क्षेत्रों में ये चिकित्सा सुविधाएं प्रदान की जाएंगी

हम ग्रामीण क्षेत्रों की अपनी सभी गर्भवती माताओं और बहनों को बताना चाहेंगे कि इस योजना के तहत “पीएम सुरक्षित मातृत्व आश्वासन सुमन योजना” के तहत उन्हें बुनियादी चिकित्सा सुविधाएं दी जाएंगी, जो इस प्रकार हैं-

  • प्राथमिक एवं सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर निःशुल्क जांच एवं दवाओं की सुविधा
  • ग्रामीण एवं मेडिकल कॉलेज अस्पतालों में नि:शुल्क स्वास्थ्य जांच एवं दवाएं,
  • जिला चिकित्सालयों एवं उप जिला चिकित्सालयों में नि:शुल्क जांच, दवाइयां एवं प्रसूति के लिए सभी आवश्यक चिकित्सा सुविधाएं एवं उसके बाद आदि प्रदान की जाएंगी।

उपरोक्त चिकित्सा सुविधाएं हमारी सभी ग्रामीण महिलाओं को प्रदान की जाएंगी।

पढ़ना, प्रधानमंत्री आवास योजना सब्सिडी योजना हिंदी में

  1. योजना के तहत शहरी क्षेत्रों में ये चिकित्सा सुविधाएं प्रदान की जाएंगी

हम शहरी क्षेत्रों की अपनी सभी गर्भवती माताओं और बहनों को सूचित करना चाहते हैं कि इस योजना के तहत “पीएम सुरक्षित मातृत्व आश्वासन सुमन योजना” के तहत उन्हें बुनियादी चिकित्सा सुविधाएं दी जाएंगी, जो इस प्रकार हैं-

  • प्राथमिक शहरी औषधालयों में नि:शुल्क जांच और दवाएं उपलब्ध कराई जाएंगी।
  • अर्बन हेल्थ पोस्ट और के माध्यम से चिकित्सा सुविधाएं प्रदान की जाएंगी
  • अंतिम स्तर पर प्रसूति गृहों के माध्यम से निःशुल्क जांच, प्रसव एवं प्रसव के बाद की सभी आवश्यक चिकित्सा सेवाओं के साथ-साथ दवाओं आदि की सुविधा प्रदान की जाएगी।

उपरोक्त चिकित्सा सुविधाएं हमारे सभी शहरी क्षेत्रों की गर्भवती माताओं और बहनों को प्रदान की जाएंगी।

उक्त दोनों क्षेत्रों में योजनान्तर्गत हमारी सभी गर्भवती माताओं एवं बहनों को चिकित्सा सुविधा प्रदान कर उनके एवं उनके नवजात शिशुओं के स्वास्थ्य एवं सुरक्षा का निर्णय लिया जायेगा।

इस योजना में हमारी सभी गर्भवती माताएं और बहनें दोनों माध्यमों से आवेदन कर सकती हैं।

हम अपनी गर्भवती माताओं और बहनों को बताना चाहते हैं कि, गर्भावस्था के दौरान और बच्चे के जन्म के बाद उनके स्वास्थ्य की रक्षा के लिए, इस योजना यानि “पीएम सुरक्षित मातृत्व आश्वासन सुमन योजना” में, आप दोनों माध्यमों से आवेदन कर सकते हैं जो हैं निम्नलिखित नुसार –

  1. आप ऑनलाइन जाकर योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं

हम अपनी सभी गर्भवती माताओं और बहनों को बताना चाहते हैं कि, वे इस योजना यानि “पीएम सुरक्षित मातृत्व आश्वासन सुमन योजना” में ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं, लेकिन अब इस योजना में आवेदन के लिए ऑनलाइन प्रक्रिया पूरी करनी है। शुरू नहीं किया गया है, इसलिए हमारी सभी गर्भवती माताओं और बहनों को जो इस योजना में ऑनलाइन आवेदन करना चाहती हैं, उन्हें इंतजार करना होगा और हम आपको विश्वास दिलाते हैं कि, जैसे ही इस योजना में ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया जारी की जाएगी या तब भी जानकारी होगी जारी किया गया है, हम आपको तुरंत अपने अगले लेख के माध्यम से सूचित करेंगे क्योंकि यह हमारा कर्तव्य और दायित्व है कि आप इस योजना के बारे में आपको पूरी तरह से अवगत कराएं ताकि आप अधिक से अधिक मात्रा में योजना का लाभ उठा सकें। क्या आप कर सकते हैं

  1. आप इस योजना में ऑफलाइन माध्यम से भी आवेदन कर सकते हैं

हम अपनी गर्भवती माताओं और बहनों को बताना चाहेंगे कि यदि वे इस योजना यानि “पीएम सुरक्षित मातृत्व बीमा सुमन योजना” के लिए ऑफलाइन जाकर आवेदन करना चाहती हैं, तो उन्हें इस प्रक्रिया के तहत अपना आवेदन करना होगा, जो इस प्रकार हैं: इस प्रकार

  • सबसे पहले हमारी सभी गर्भवती माताओं और बहनों को अपने नजदीकी सरकारी अस्पताल जाना है।
  • वहां आपको योजना के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त करनी होगी,
  • इसके बाद योजना का लाभ लेने के लिए हमारी सभी गर्भवती माताओं और बहनों को सिर्फ एक रुपये की पर्ची बनाकर योजना में अपना पंजीकरण कराना होगा।

उपरोक्त चरणों को पूरा करने के बाद, हमारी सभी गर्भवती माताएं और बहनें इस योजना में ऑफ़लाइन आवेदन करके इस योजना का लाभ उठा सकती हैं।

इस योजना में, हमने अपनी सभी गर्भवती माताओं और बहनों को आवेदन करने के दोनों साधनों के बारे में सूचित किया है ताकि आप अधिक से अधिक मात्रा में इस योजना का लाभ उठाकर अपने और अपने नवजात शिशु के स्वास्थ्य की रक्षा कर सकें।

पढ़ना, पीएमजेडीवाई प्रधानमंत्री जन धन योजना 2022

हम आशा करते हैं कि आप हमारे द्वारा दी गई जानकारी के लिए इसी तरह हमसे जुड़े रहें, कमेंट करके अपनी राय हमें बताएं और आप हमें फेसबुक पर भी फॉलो कर सकते हैं, इससे हमें भविष्य में और बेहतर कंटेंट लाने में मदद मिलती है, धन्यवाद।

योजना के बारे में आपके प्रश्न और हमारे उत्तर

इस कल्याणकारी योजना के संबंध में हमें अपनी गर्भवती माताओं और बहनों से कुछ प्रश्न प्राप्त हुए हैं, जिनका उत्तर हमने इस प्रकार दिया है-

प्रश्न – योजना के मूल लक्ष्य क्या हैं?

उत्तर – योजना का मूल लक्ष्य हमारी सभी भारतीय गर्भवती माताओं, बहनों और नवजात शिशुओं को स्वास्थ्य सुरक्षा प्रदान करना और उन्हें एक स्वस्थ और सुरक्षित जीवन और भविष्य प्रदान करना है।

प्रश्न – योजना कब शुरू की गई थी?

उत्तर-केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन और प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने मिलकर 10 अक्टूबर 2019 को इस योजना की शुरुआत की थी।

प्रश्न – योजना में चिकित्सा सुविधाओं के लिए कितना खर्चा देना है ?

उत्तर – इस योजना के तहत प्रदान की जाने वाली सभी चिकित्सा सुविधाएं बिल्कुल मुफ्त और मुफ्त हैं।

प्रश्न- किन क्षेत्रों में गर्भवती माताओं और बहनों को योजना का लाभ दिया जाएगा?

उत्तर- योजना का लाभ ग्रामीण एवं शहरी दोनों क्षेत्रों की गर्भवती माताओं एवं बहनों को दिया जायेगा।

प्रश्न- किस राज्य की गर्भवती माताओं और बहनों को इस योजना का लाभ दिया जाएगा?

उत्तर – इस योजना का लाभ भारत की सभी गर्भवती माताओं और बहनों को दिया जाएगा।

प्रश्न – इस योजना में आवेदन कैसे करें?

उत्तर – हमारी सभी गर्भवती माताएं और बहनें ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों माध्यमों से आवेदन करके इस योजना का लाभ उठा सकती हैं।

प्रश्न- क्या योजना के तहत ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है?

नहीं जवाब। अभी हमारी सभी गर्भवती माताओं और बहनों को इस योजना में ऑनलाइन आवेदन के लिए इंतजार करना होगा, लेकिन तब तक वे ऑफलाइन आवेदन करके इस योजना का लाभ उठा सकती हैं।

Leave a Comment